बीकानेर-जोधपुर संभाग में धीमी पड़ी धूलभरी आंधी

0
165
बीकानेर-जोधपुर संभाग में धीमी पड़ी धूलभरी आंधी
बीकानेर-जोधपुर संभाग में धीमी पड़ी धूलभरी आंधी

राजस्थान के जोधपुर व बीकानेर संभाग में कई स्थानों पर पिछले तीन दिन से छाया धूल का गुबार शुक्रवार को भी छाया रहा।बीकानेर-जोधपुर संभाग में धीमी पड़ी धूलभरी आंधी हालांकि पिछले तीन दिन के मुकाबले यह शुक्रवार को काफी कम रहा। वहीं राज्य में दिन व रात के तापमान में गिरावट आई है। ज्यादातर शहरों के अधिकतम तापमान 40 डिग्री के आस-पास बना हुआ है। वहीं रात के तापमान में भी कमी आई है। बीती रात 31.0 डिग्री न्यूनतम तापमान के साथ सवाईमाधोपुर में सबसे गर्म रात रही। जयपुर में भी रात का तापमान 30 डिग्री के ऊपर बना हुआ है।

चौथे दिन कमजोर पड़ा धूल का गुबार

पत्नी के गर्भवती होते ही पति कर लेता है दूसरी शादी, आखिर क्यों

– जैसलमेर में पिछले तीन दिन से लगातार चल रही हवाओं की रफ्तार शुक्रवार को कमजोर पड़ गई। मंगलवार को अचानक शुरू हुई धूलभरी आंधी गुरूवार को और ज्यादा तेज हो गई थी। मौसम विभाग के अनुसार गुरूवार को 52 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज हवाएं चलीं। बीकानेर-जोधपुर संभाग में धीमी पड़ी धूलभरी आंधी शक्रवार को इसमें मामूली कमी आई और हवा की रफ्तार 51 किमी प्रति घंटा रही। धूलभरी आंधी चलने से जैसलमेर के 50 से ज्यादा गांव सड़क संपर्क से कट गए। ग्रामीण अंचलों के साथ ही शहर में धूलभरी तेज हवाओं के कारण वाहन चालकों व गृहिणियों को सर्वाधिक परेशानी का सामना करना पड़ा। महिलाओं द्वारा गुरूवार को 8 से 10 बार साफ सफाई की गई, उसके बाद भी घर धूल से सटे रहे। लगातार बढ़ती तेज हवाओं के कारण आमजन का जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। तेज हवाओं के साथ ही धूल से भरे बवंडर से हर कोई आहत नजर आया। वाहन चालकों को कम विजिबिलिटी के चलते खासी परेशानी उठानी पड़ी। हालांकि शुक्रवार को यह काफी कम हो गया।

धूल से ढ़क गया शहर

– शहर में तेज हवाओं के चलते आमजन की स्थिति बदतर नजर आई। गुरूवार सुबह से ही पूरा शहर धूल के बवंडर में समाया रहा। सड़क पर दिखाई देना बंद हो गया जिससे वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

– लाठी केरालिया गांव से पोकरण उपखंड को जोड़ने वाली सड़क इन दिनों चल रही तेज आंधी के कारण रेत में दफन हो गई। जिसके चलते केरालिया से पोकरण की तरफ चलने वाली बस सेवा भी बाधित हो गई है। पोकरण से केरालिया को जोड़ने के लिए पक्की सड़क के अभाव में बस के संचालन में असुविधा उत्पन्न हो रही हैबीकानेर-जोधपुर संभाग में धीमी पड़ी धूलभरी आंधी क्योंकि बीते कुछ दिनों से आंधियों के चलने के कारण आम रास्ता था, वो रेत के टीले में तब्दील हो चुका है। इस बस सुविधा के बाधित होने से केरालिया गांव लोहटा, बस्सी, चांदनी, ओढाणिया के आम लोगों को अत्यधिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। रास्ता बंद होने के कारण रेत हटाकर बस को आगे ले जाने में 4 घंटे बर्बाद हो जाते हैं।

वर्जन

– जैसलमेर के म्याजलार में रहने वाले चंपतसिंह ने बताया कि तीन दिन से लगातार चल रही आंधी से हालत खराब हो गई है। ग्रामीण अंचलों में तेज आंधी के चलते जीना दुश्वार हो गया है। आस पास के कई गांवों व जिला मुख्यालय से सड़क से संपर्क पूरी तरह से टूट गया है।

धूल भरी गर्म हवाएं चलेंगी

– मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में राज्य में मौसम शुष्क बना रहेगा। उत्तरी राजस्थान और आसपास के भागों पर बने चक्रवाती सिस्टम के प्रभाव से राजस्थान में धूल भरी गर्म उत्तर-पश्चिमी हवाएं लगातार चलती रहेंगी।

बीकानेर-जोधपुर संभाग में धीमी पड़ी धूलभरी आंधी
बीकानेर-जोधपुर संभाग में धीमी पड़ी धूलभरी आंधी

पूर्वी राजस्थान के अलवर, बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, दौसा, धौलपुर, डूंगरपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, करौली, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, सीकर, सिरोही, टोंक, उदयपुर में धूलभरी हवाएं चलेंगी।

– वहीं पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, बीकानेर, चूरू, हनुमानगढ़, जैसलमरे, जालौर, जोधपुर, नागौर, पाली और श्रीगंगानगर में धूल भरी आंधी चलेगी।

जयपुर

– मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में जयपुर में मौसम आसमान साफ रहेगा। यहां अधिकतम तापमान 42 डिग्री तथा न्यूनतम तापमान 30 डिग्री रहने का अनुमान है। 
– जयपुर में अधिकतम तापमान 38 डिग्री रहा।

प्रमुख शहरों का तापमान

शहर  न्यूनतम तापमान अधिकतम
अजमेर 23.0 डिग्री 37 डिग्री
भीलवाड़ा 27.5 38
जयपुर 30.1 38
पिलानी 29.8 38
कोटा 29.2 39
सवाईमाधोपुर 31.0 40
श्रीगंगानगर 30.9 39
माउंट आबू 18.4 31
     

श्रीगंगानगर 30.9 39

माउंट आबू 18.4 31

एक टिप्पणी लिखे